सुगम्य भारत अभियान के बारे में पूरी जानकारी

Sugamya Bharat Abhiyan Yojana [Hindi] सुगम्य भारत अभियान भारत सरकार द्वारा साल 2015 में शुरू किया गया था. यह अभियान दिव्यांग लोगों के लिए प्रारंभ किया था. सुगम्य भारत अभियान को Accessible India Campaign के तौर पर भी जाना जाता है.  इस अभियान का उद्देश्य दिव्यांग लोगों के लिए सार्वभौमिक पहुंच प्रदान करना है.

यह एक देशव्यापी अभियान है जो दिव्यांग व्यक्तियों को जीवन के सभी क्षेत्रों में भागीदारी करने और समान अवसर एवं आत्मनिर्भर जीवन प्रदान करना सुनिश्चित करना है.

Sugamya Bharat Abhiyan Yojana In Hindi

इस योजना का मुख्य लक्ष्य विकलांग लोगो को इतना सक्षम करना है कि वह आत्मनिर्भरता के साथ अपना जीवन यापन कर सके.

इस अभियान के तहत देश के विकलांग लोगो को अलग-अलग तरीको से सबल किया जाएगा.देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने सुगम्य भारत अभियान की शुरुआत 3 दिसंबर 2015 को की थी. इसी के साथ इसे देश भर में लागू कर दिया गया था.

सुगम्य भारत अभियान

इस योजना को भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के विकलांगजन सशक्तिकरण विभाग द्वारा संचालित किया जाता हैं.

सुगम्य भारत अभियान योजना

सुगम्य भारत अभियान के तहत भारत सरकार ने सुगम्य भौतिक वातावरण, सुगम्य परिवहन, सूचना और संचार पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने पर जोर देते हुए इन्हें योजना के केंद्र बिंदु में रखा गया है.

दिव्यगों व्यक्तियों के जीवन में हर स्तर पर सकारात्मक बदलाव लाना इस अभियान का हिस्सा है.

भारत सरकार सामाजिक-आर्थिक बदलाव के प्रति दृढ़ प्रतिबद्धता के साथ-साथ सार्वभौमिक पहुंच के लिए भी बड़े पैमाने पर काम करेगी और इसके लिए लोगों में जागरूकता पैदा करने के प्रयास भी बड़े स्तर पर किये जाएंगे.

Sugamya Bharat Abhiyan Yojana In Hindi

भारत सरकार के विकलांग सशक्तिकरण विभाग का उद्देश्य है कि सभी विभागों में दिव्यांग लोगों को भी सामान्य लोगो की तरह ही समान अवसर और सम्मान प्राप्त हो.

सुगम्य भारत अभियान उद्देश्य | Sugamya Barat Abhiyan Aim [Hindi]

सुगम्य भारत अभियान के जरिए भारत सरकार जागरूकता फैलाएगी और दिव्यांग व्यक्तियों को सरलता से अपना जीवन जीने के लिए प्रेरित करेगी.

सुगम्य भारत अभियान के तहत विकलांगजन सशक्तिकरण विभाग द्वारा दिव्यांगों के लिए सरकारी भवनों में खास व्यवस्था बढ़ाई जाएगी.

इसके आलावा एयरपोर्ट्स, रेलवे स्टेशन, पब्लिक ट्रांसपोर्ट पर भी दिव्यांगों के लिए ऐसे ही खास तौर की व्यवस्थाएं तैयार की जाएगी.

Accessible India Campaign के तहत सरकार पब्लिक वेबसाईट और डॉक्यूमेंट भी इस तरह से तैयार करेगी कि सभी दिव्यांग को इन्हें पढ़ने में आसानी रहे.

अभियान के तहत उद्देश्य रखा गया है कि टेलीविज़न और पब्लिक मीडिया में साइन लैंग्वेज का प्रयोग किया जाएगा जिससे की दिव्यांग लोग इसे समझ सके.

दिव्यांगों के लिए सरकारी योजना

सुगम्य भारत अभियान के अवयव | Sugamya Bharat Abhiyan Guidelines

सुगम्य भारत अभियान में तीन प्रमुख अवयव शामिल किये गए है. विभाग इन तीनों घटकों पर काम करके इस योजना को सफल बनाएगा.

निर्मित वातावरण सुगम्यता

दिव्यंगों को एक ऐसा भौतिक वातावरण देने पर जोर किया गया है जो उनके जीवन यापन को आसन बना सके.

निर्मित वातावरण सुगम्यता के तहत दिव्यंगों के लिए सुलभ भौतिक वातावरण प्रदान किया जाएगा. इसके तहत लक्ष्य रखा गया है कि ऐसे लोगों को स्कूलों, चिकित्सा सुविधाओं और कार्यस्थलों सहित सभी विभागों में आने वाली बाधाओं और अवरोधों को दूर किया जाएगा.

इसके तहत निर्मित वातावरण न केवल इमारतों को बल्कि रैंप, फुटपाथों, गलियारों, प्रवेश द्वार, पार्किंग, आपातकालीन निकासों, शौचालय और पैदल यात्री यातायात के प्रवाह को रोकने वाली बाधाओं को दूर करना भी इसी में शामिल किया गया है.

परिवहन प्रणाली सुगम्यता

परिवहन आज के समय का सबसे महत्वपूर्व घटक है. एक स्वतंत्र और आत्मनिर्भर जीवन जीने के लिए परिवहन का सुविधाजनक होता आवश्यक है.

परिवहन प्रणाली में सुगम्यता के तहत हवाई यात्रा, बसों, टैक्सियों और ट्रेनों सहित परिवार के सभी क्षेत्रों में सुधार करके विगलांगों के लिए जीवन की राह आसन बनाई जाएगी.

देश में मौजूद अगम्य परिवहन प्रणाली को सुगम्य परिवहन में बदला जाएगा ताकि दिव्यंगों के लिए आवागमन की स्वतंत्रता एवं सक्रिय भागीदारी को सुनिश्चित किया जा सके.

विकलांग व्यक्तियों के लिए इस अभियान के जरिए गरिमा और स्वतंत्रता के साथ सार्वजनिक और निजी परिवहन का सुविधाजनक उपयोग करने का एक समान अधिकार प्रदान करना है.

सूचना और संचार इको प्रणाली सुगम्यता

समाज में सही समय पर सुचना की पहुंच लोगों के लिए अधिक से अधिक अवसर पैदा करती है. अगर सूचनाएं असमय मिले तो उनका कोई अर्थ नहीं रह जाता है.

इसीलिए इसे भी इस अभियान का हिस्सा बनाया गया है. इसका उद्देश्य कीमत के टैग को पढ़ने में, किसी कार्यक्रम में भाग लेने, स्वास्थ्य संबंधी सूचना पुस्तिका को आसानी से पढ़ने में, ट्रेन की समय सारिणी पढ़ने में और वेबसाइट पढ़ने और समझने में सक्षम बनाना है.

भारत सरकार सुगम्य भारत अभियान के माध्यम से ऐसी सभी बेहद ही जरुरी और बुनियादी सुविधाओं की सामाजिक बाधाओं, अवरोधों और दुर्गम प्रारूपों पर लगाम लगाने के लिए ठोस कदम उठाने के लिए प्रतिबद्ध है.

जिससे की दिव्यंगों के दैनिक जीवन में सुचना प्राप्त करने एवं उपयोग करने के रास्ते में जो बाधा है उसे खत्म किया जा सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *