Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana | प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की जानकारी

Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana In Hindi: प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी फ्लैगशिप योजना है| ये एक (Skill Development) स्क्लि डेवलपमेंट से संबंधित प्रारंभिक योजना है| यह योजना कौशल विकास एवं उद्यमिता विभाग (Entrepreneurship) की ओर से संचालित होती है| देश भर में बेरोजगारी (Unemployment) की समस्या को देखते हुए इसके हल के लिए केंद्र सरकार ने मेक इन इंडिया (Make In India) के अंतर्गत इस योजना का शुभारंभ किया था|

देश के हर बेरोजगार युवक को सरकारी नौकरी (Government Job) देना सरकार के लिए असंभव है, और न ही प्राइवेट सेक्टर के द्वारा ये संभव है| इसी सोच के साथ वर्ष 2015 में इसे लॉन्च किया गया था|

इस योजना का लक्ष्य बेरोजगारी मिटा कर देश से गरीबी दूर करना है| 2020 तक इस योजना के द्वारा, लगभग एक करोड़ युवाओं को जोड़े जाने का लक्ष्य (Aim) है|

Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana Courses

आज इस पोस्ट में आपको विस्तारपूर्वक (Detailed Info About PMKVY)) प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के बारे में जानकारी दी जायेगी| जो आपके लिए बेहद लाभदायक साबित हो सकती है| हम यहां बताएंगे कि आप किस तरह से इस योजना का (Schemes Benefits) संपूर्ण लाभ ले सकते हैं|

Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana | प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

हर किसी के पास कोई न कोई हुनर अवश्य होता है| हुनर से रोजगार सृजन करने के उद्देश्य से केंद्र सरकार चाहती है कि, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से सभी युवा वर्ग को जोड़ कर उनके हुनर की पहचान की जाए|

और हर युवा अपने हुनर के हिसाब अपने लिए भविष्य तैयार करे| इस तरह से युवकों को उनके पसंद का काम भी मिल जायेगा और सरकार उन्हें हर तरह से मदद देगी वो अलग|

Kaushal Vikas Yojana के पहले वर्ष में इससे 24 लाख युवाओं को जोड़ने की मुहिम सरकार ने शुरु की थी| उचित प्रबंधन के अभाव से इस लक्ष्य की प्राप्ति नहीं हो सकी थी|

लेकिन धीरे धीरे प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से जुड़ने वाले युवाओं की संख्या, लगातार बढ़ती जा रही है| इस योजना के तहत युवाओं को उनकी योग्यतानुसार, ट्रेनिंग दी जाती है| और आगे चलकर उनके रोजगार के लिए युवाओं को लोन भी उपलब्ध कराया जाता है|

इस तरह से काम करती है, प्रधामनंत्री कौशल विकास योजना

Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana का लाभ (Benefits) ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिल सके, इसके लिए सरकार ने गैर सरकारी (Private Sector) संस्थाओं और कई टेलीकॉम कंपनियों (Telecom Company) को अपने साथ जोड़ा है|

प्रखंड स्तर पर देश भर में, प्रधानमंत्री कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र (Training Center) खोले गए हैं| जो सरकारी सहायता से युवाओं को ट्रेनिंग की सुविधा (Facility) दे रहे हैं|

मिस कॉल से बन जाता है काम

सरकार ने Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana से देश की सभी बड़ी टेलीकॉम कंपनियों (Telecom Company) को जोड़ रखा है| टेलीकॉम कपंनियां इस योजना के तहत अपने उपभोक्ताओं को मैसेज के माध्यम से एक टोल फ्री (Toll Free Number) नंबर देती हैं| जिस पर मिस कॉल Missed Call देना होता है|

मिस कॉल देने के बाद तत्काल आपके एक पास एक फोन आता है, जिससे आप आईवीआर (IVR) सुविधा से जुड़ जाते हैं|

अब दिए गए निर्देशों के अनुसार कैंडिडेट को अपनी जानकारी भेजनी होती है| इस भेजी गई जानकारी को कौशल विकास योजना के सिस्टम में सेव कर लिया जाता है|

जानकारी मिलने के बाद कैंडिडेट को उसके निवास स्थान के नजदीक के किसी ट्रेनिंग सेंटर से जोड़ दिया जाता है| ट्रेनिंग सेंटर से संपर्क के बाद आगे की प्रक्रिया (Process Start) शुरु कर दी जाती है|

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की फीस

Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana (PMKVY) Apply Online

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का लाभ लेने वाले कैंडिडेट का जो भी फीस खर्च आदि होगा, उसके पैसे सरकार देती है| यानी की कैंडिडेट को एक रुपया भी नहीं देना होता है|

केंद्र सरकार ट्रेनिंग देने वाले ट्रेनिंग सेंटर के अकाउंट में, सीधे फीस की राशि ट्रांसफर कर देती है| याद रहे कि कैंडिडेट को ट्रेनिंग के लिए एक रुपया भी नहीं देना होता है|

अगर कोई भी बीच का दलाल (Commission Agent) या बिचौलिया आपसे इस ट्रेनिंग सेंटर के लिए ,अलग से नकद भुगतान के लिए कहे तो उसकी शिकायत दर्ज करा सकते हैं|

कैंडिडेट के लिए बनाए गए नियम

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का लाभ लेने के लिए कुछ नियम (Rule) बनाए गए हैं, जिसके तहत हर कैंडिडेट का आधार कार्ड वेरिफिकेशन अनिवार्य होता है|

बिना आधार कार्ड वेरिफिकेशन के योजना में भ्रष्टाचार (Corruption) का खतरा हो सकता है, इसलिए आधार वेरिफिकेशन (Adhar Verification) जरुरी किया गया है|

कौन कर सकता है आवेदन

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) के लिए आवेदन करने की, सबसे बड़ी शर्त यह है कि आवेदन को भारत का नागरिक (Indian Citizen) होना चाहिए|

उसके बाद अपनी किसी भी योग्यता या हुनर के हिसाब से किसी एक योजना के लिए 03 महीने, 06 महीने और एक साल के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होता है.

नौकरी करने के योग्य युवा, कौशल विकास योजना के लिए आवेदन करने के पात्र हैं|

उदाहरण के लिए अगर आपने 12वीं की परीक्षा पास कर ली है, या फिर ग्रेजुएशन (Graduation Complete) पूरा कर लिया है| तो आप प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं|

प्रशिक्षण एक बार पूरा हो जाने के बाद सरकार की ओर से आपको रिवॉर्ड दे दिया जाता है|

सरकार की ओर से तय किया गया सारा रिवॉर्ड एक ही बार में दे दिया जाता है| आपको बार बार परेशान नहीं होना पड़ता है| रिवॉर्ड के तौर पर नकद राशि (Cash Amount) दी जाती है.

आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लिए आवेदन करने के लिए, बहुत अधिक दस्तावेजों की आवश्यक्ता नहीं पड़ती| आवेदन के साथ आपको आधार कार्ड की छायाप्रति देनी होती है|

इसके अलावा आपको पासपोर्ट साइज (Passport Size) के दो रंगीन फोटोग्राफ (Photographs) और परिवार के किसी और सदस्य के आधार कार्ड की छायाप्रति.

PMKVY Registration | कैसे करें ऑनलाइन आवेदन

Find a Training Center Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana (PMKVY)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online Form Submission) करने के लिए आपको इसके ऑफिसियल वेबसाइट http://pmkvyofficial.org पर जाना होगा. वहां जाकर ऑनलाइन फॅार्म भरें|

फॉर्म भरते समय जो जो भी डिटेल मांगी जाए, उसे पूरा (Detailed Information) भरें.| फॉर्म भर जाने के बाद आवेदक से उसके पंसदीदा तकनीकी क्षेत्र (Technical Area) की जानकारी मांगी जाएगी|

जिस तकनीकी क्षेत्र में आप अपना करियर बनाना चाहते हैं , उस का चयन करें. सारी जानकारी अपलोड करने के बाद आपको अपने घर के आस पास किसी ट्रेनिंग सेंटर (Training Center) का चयन करना होगा|

ट्रेनिंग सेंटर चुनने के बाद आपको सबमिट (Submit) का ऑप्शन दिखेगा, उस पर क्लिक करें. क्लिक के साथ ही आपका आवेदन जमा (Submit) हो जाता है|

सरकार ने जारी किया पर्याप्त फंड

सरकार की मंशा है कि इस योजना (PMKVY) के तहत ज्यादा से ज्यादा युवकों को रोजगार (Jobs) दिया जा सके| इसके लिए केंद्रीय कैबिनेट ने 120 बिलियन $ डॉलर का फंड प्रस्तावित किया है, जिससे की 2016 से 2020 तक 01 करोड़ युवाओं को प्रशिक्षित (Trained) किया जा सके|

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की कुछ खास बातें

कम पढ़े लिखे युवा या पढ़ाई बीच में ही छोड़ चुके युवा इस योजना (PMKVY) का लाभ लेकर अपने पैरों पर खड़े (Self Depend) हो सकते हैं| इस योजना के लिए कोई फीस नहीं देनी होती बल्कि ट्रेनिंग पूरा हो जाने के बाद 8 हजार रुपये का पुरस्कार मिलता है|

कंस्ट्रक्शन, फूड प्रोसेसिंग, इलेक्ट्रॉनिक एवं हार्डवेयर, फर्नीचर, फिटिंग, हैंडीक्रॉफ्ट, जेम्स एंड ज्वेलरी, लेदर टेक्नोलॉजी जैसे 40 तकनीकी क्षेत्र ट्रेनिंग के लिए उपलब्ध कराए गए है|

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की ट्रेनिंग के सर्टिफिकेट (Certificate) को पूरे देश में मान्यता प्रदान है| बैंक भी इसे दस्तावेज के तौर पर स्वीकार करते हैं|

ट्रेनिंग के बाद सरकार आर्थिक सहायता (Financially Help) के साथ ही नौकरी दिलाने में मदद करती है और बैंकों से लोन (Bank Loan) भी उपलब्ध कराती है|

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *