प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है? और किसान इसका लाभ कैसे ले सकते हैं

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana: हम जानते हैं की किसान दिन रात मेहनत करके अपनी फसल को उगाता है| लेकिन फिर भी किसानों को चिंता लगी रहती है की कहीं उनकी फसल किसी प्राकृतिक आपदा की वजह से नष्ट न हो जाये| किसानों के पास अपने परिवार को चलाने के लिए कोई दूसरा रास्ता नहीं हैं| किसानों को इसी चिंता से मुक्त करने के लिए केंद्र सरकार ने किसानों के हक़ में 13 जनवरी 2016 को ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ (PMFBY) को पूर्णरूप से मंजूरी दे दी है|

जिसका मुख्य उद्देश्य है, कि यदि किसी भी प्राकृतिक आपदा की वजह से किसानों की फसल नष्ट होती है| तो सरकार मुआवजे के रूप में उनकी आर्थिक रूप से साहयता करेगी|

  • Crop insurance in India apply online
  • Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana
  • Benefits of pradhan mantri fasal bima yojana
  • How To Apply Online PMFBY
  • List Pradhan Mantri Fasa Bima Yojana

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Jankari Hindi me

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana [Hindi]

‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ के लिए केंद्र सरकार ने 8800 करोड़ रूपए खर्च करने का निर्णय लिया है| ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ के तहत बीमा करवाने वाली कंपनी द्वारा किसानों को नष्ट हुई फसल का मुआवजा दिलवाया जायेगा|

इस योजना से किसानों को काफी राहत मिलने की उम्मीद है. कई बार किसान फसल बर्बाद होने के चलते जीवन भर क़र्ज़ के बोझ तले दबा रहता है.

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए, मुआवजा धनराशी

[PMFBY] इस योजना को लेने से पहले हर किसान के मन में सिर्फ यही सवाल उठता है, आखिर सरकार Pradhan Mantri Bima Yojana के तहत कितना मुआवजा प्रदान करेगी? और किस हिसाब से करेगी?

crop insurance in india apply online

हम आप सभी को इस पोस्ट में बता देते हैं कि बीमा कम्पनी द्वारा खरीफ फसलें जैसे कि सोयाबीन, चावल, गन्‍ना, धान, बाजरा, मक्‍का, कपास, मूँगफली, शकरकन्‍द, उर्द, मूँग , ज्‍वार, तिल, ग्‍वार, जूट, सनई, अरहर, भिण्डी आदि इन फसलों पर बीमा कंपनी 2% प्रीमियम के हिसाब से मुआवजा देने में देय होगी|

‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ की policy के अंतर्गत बीमा करवाने वाली कंपनी रवि फसल जैसे – गेहूँ , जौ, चना , मसूर , सरसों आदि पर किसानों की नष्ट हुई फसल पर 1.5% के हिसाब से किसानों को आर्थिक रूप से सहायता प्रदान करेगी|

वाणिज्यिक फसल जिसे हम व्यापारिक फसल के नाम से भी जानते हैं| यह फसलें मुख्य रूप से दक्षिण भारत में उगाई जाती हैं| वाणिज्यिक फसलों में तिल, अलसी, अरण्डी व सूर्यमुखी, गवार, चुकंदर, जूट, मेस्टा, सन, कपास, तम्बाकू, चाय सहित अन्य सभी फल और सब्जीयाँ आदि भी वाणिज्यिक फसल में शामिल किये गए हैं|

यदि वाणिज्यिक फसलों पर किसी प्रकार की प्राकृतिक आपदा की वजह से फसल नष्ट होती है| तो बीमा कंपनी 5% के हिसाब से मुआवजा प्रदान करेगी|

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लाभ | Benefits of pradhan mantri fasal bima yojana

Fasal Bima Yojana Ke Fayde

  • ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ का लाभ हर किसान को प्रदान किया जायेगा चाह वह छोटा हो या फिर जायदा जमीन जायजाद वाला बड़ा किसान हो इस योजना का लाभ हर किसान को प्रदान किया जायेगा|
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को मुआवजा टैक्स मुक्त दिया जाता है| बीमा कंपनी द्वारा आर्थिक रूप से सहायता दी गई राशी पर किसी भी प्रकार का टैक्स नहीं लगेगा|
  • ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ की Policy में नॉमिनी रखने की सुविधा भी केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की गई है| यदि फसल बीमा का आवेदन भरने के बाद आवेदनकर्ता की म्रत्यु होती है, तो उस किसान ने जिसे आवेदन में नॉमिनी बनाया है| उसे फसल बीमा कंपनी द्वारा पूर्ण रूप से आर्थिक सहायता दी जाएगी| जिसमे किसी भी प्रकार की कोई कटौती नहीं की जाएगी|
  •  फसल बीमा कंपनी द्वारा प्रदान की गई राशी सीधा आवेदक के खाते में डाली जाएगी| जिससे बीच में किसी भी अधिकारी के भ्रष्टाचार करने का डर नहीं है| यदि कोई भी अधिकारी आपसे रिश्वत माँगता है, तो उसे किसी भी प्रकार की रिश्वत न दें|

कैसे करें प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए आवेदन? | How To Apply For Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana [Hindi]

सबसे पहले आपको ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ का फॉर्म लेना होगा| जो की आपको तहसील या किसी भी कंप्यूटर शॉप पर मिल जायेगा|

  1. ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ का फॉर्म लेने के बाद आपको उसमें पूछी गई सम्पूर्ण जानकारी सही एवं स्पस्ट शब्दों में भरना है|
  2. फॉर्म में पूरी जानकारी भरने के बाद आपको अपने जरूरती दस्तावेजों की फोटोकॉपी इसके साथ ही लगाना होगा| जरुरी दस्तावेजों का विवरण नीचे दिया गया है|
  3. फॉर्म को पूरी तरह से तैयार करने के बाद आपको अपने नजदीकी ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ का लाभ देने वाले बैंक में यह फॉर्म देना होगा|
  4. इसके बाद आपको जैसे ही ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ के तहत राशि प्रदान की जाएगी| उसी समय बीमा कंपनी द्वारा आपके बैंक खाते में धनराशि प्रदान कर दी जाएगी|

ऑफलाइन आवेदन के लिए जरूरती दस्तावेज

  1. आधार कार्ड
  2. पेन कार्ड
  3. राशन कार्ड
  4. परिचय पत्र
  5. बैंक का खाता नंबर
  6. किसान द्वारा वर्तमान में बोई हुई फसल की सम्पूर्ण जानकारी, कितनी जमीन में बोई है आदि|

‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ के लिए ऑनलाइन आवेदन करना हुआ आसान, जाने कैसे?

यदि आप ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको http://www.agri-insurance.gov.in/ वेबसाइट पर पहुँचना होगा| वेबसाइट खुलने के बाद आपको वहां एक Farmer Login के नाम से ऑप्शन दिखाई देगा आपको उस पर क्लिक कर देना है|

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Apply Online

  1.  जब आपने अपना किसान पंजीकरण करवाया था| उस समय पर आधार नंबर दिया होगा| जैसे ही आप आधार नंबर डालोगे, आपको अपनी जानकारी प्राप्त हो जाएगी|
  2. जो जानकारी उसमे नहीं दी जाएगी वह किसान को ऑनलाइन आवेदन करते समय स्वयं भरनी होगी| जैसे नाम, पिता का नाम,किसान की केटेगरी, किसान का प्रकार, नीचे Select करें|
  3. कुछ जानकारियाँ उसमे अनिवार्य भरना होंगी जिसमे आपको स्टार का सिग्न dदिख जायेगा| वह आपको जरुर ही भरनी पड़ेंगी| इस बात का भी ध्यान रखें जो जानकारी भरी हुई आ रही है उसे एक बार और चेक करें|
  4.  इसके बाद पूरी जानकारी भर जाने और भरी हुई जानकारी चेक करने के बाद आपको नीचे दिया गया Save & Continue बटन उस पर क्लिक करें।
  5.  इसके बाद आपको अपने मोबाइल या कंप्यूटर स्क्रीन पर सूचना मिलेगी ‘Saved सक्सेस्स्फुल्ली’ और फिर “ok” पर क्लिक करने के बाद अब आगे का फॉर्म में जानकारी भरें जिसमे आपको अपनी जमीन सम्बंधित पूरी जानकारी भरनी होगी|आपको अपनी जमीन से सम्बंधित कुछ दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड भी करना होगा| जो दस्तावेज निम्नलिखित हैं|

* अपनी जमीन का पूरा रिकॉर्ड जिसमे आपको अपनी जमीन की किताब को स्कैन करके अपलोड करना होगा|

* बैंक पासबुक के प्रथम प्रष्ठ को स्कैन करके अपलोड करना होगा|

* सोविंग प्रमाणपत्र की स्कानोकॉपी

‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ का मुख्य उद्देश्य

  1. सर्वप्रथम ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ का लाभ लेने के लिए आपका भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है|
  2. ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ का लाभ अर्जित करने के लिए बोई हुई फसल रवि, खरीफ, वाणिज्यिक की कटाई करना अति आवश्यक है|
  3. ‘प्रधानमंत्री फसल योजना’ का लाभ केवल उन्ही किसानों को दिया जायेगा जिन्होंने इस योजना के लिए आवेदन किया था ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी एक तरीके से आवेदन करने वाले हर किसान को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा|
  4. इस योजना का लाभ तभी मिलेगा तब आपकी बोई हुई फसल किसी प्राकृतिक आपदा या कीटनाशक जीव जंतुओं की वजह से हुई हो|
  5. जिन किसानों का केंद्र सरकार के साथ ऋण लिया हुआ हो उन्हें किसी भी प्रकार के सत्यापन की आवश्यकता नहीं होगी| और वह ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ का लाभ लेने में सक्षम होंगे|

यदि आपको अपने आवेदन के बाद से किसी भी प्रकार की समस्या आ रही हो या फिर आपके आवेदन करने के बाद भी आपको बीमा कंपनी द्वारा निर्धारित की गई धन राशि प्रदान न की गई हो तो आप तुरंत ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ के टोल free नंबर 01123388911 पर संपर्क करें|

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *